16 अनजाने तथ्य जो है भारत के शीर्ष जासूस अजीत डोभाल से जुड़े हुए

हम जब भी भारत में जासूसी मिशन के बारे में बात करते हैं तो हमारे जेहन में केवल एक नाम आता है और वह नाम है अजित डोभाल। उनकी बेजोड़ रणनीतियाँ आतंकवादियों के लिए डरावने सपने की तरह है। उनके शब्दों के तीखे बाण गोलियों की तुलना में अधिक घातक हैं। वर्तमान में वह भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं और उनके नेतृत्व में ही तमाम खुफिया ऑपरेशन चलाए जा रहे हैं। अजित डोभाल कौन हैं? वह कैसे सुरक्षा मामलों के महत्वपूर्ण शख्सियत बन गए। आइए जानते है।

1. जून 2014 में, डोभाल ने आईएसआईएस के कब्जे से 46 भारतीय नर्सों की सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

नर्सें आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट के नियंत्रण वाले इराकी शहर तिकरित के एक अस्पताल में फंस गई थी।

Ajit Doval vital role
16 अनजाने तथ्य जो है भारत के शीर्ष जासूस अजीत डोभाल से जुड़े हुए

indiatvnews

2. यह अजित डोभाल का ही कमाल था कि 1971 से लेकर 1999 तक 5 इंडियन एयरलाइंस के विमानों के संभावित अपहरण की घटनाओं को टाला जा सका था।

Ajit Doval

livemint

यह भी पढ़ें  एक ऐसा जासूस अजीत डोभाल जो पाकिस्तान में 7 साल मुसलमान बनकर रहा..

3. 1999 में कंधार में इंडियन एयरलाइंस के विमान आईसी -814 के अपहर्ताओं के साथ भारत के मुख्य वार्ताकार के तौर पर अजित डोभाल ही थे।

Ajit Doval India’s main negotiator

TheHindu

4. वह सात साल तक पाकिस्तान में एक गुप्त एजेंट बन के रहे थे।

Ajit Doval undercover agent in Pakistan
16 अनजाने तथ्य जो है भारत के शीर्ष जासूस अजीत डोभाल से जुड़े हुए

fmprc

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

loading...

Loading...
शेयर करें