मेक इन इंडिया का जलवा, चीन को छोड़ Apple कर सकता है भारत का रुख !

मेक इन इंडिया का जलवा, चीन को छोड़ Apple कर सकता है भारत का रुख !

Apple के सीएफओ लूका मिस्त्री की माने तो India में Apple फोन की विक्री में 76 प्रतिशत का इज़ाफा हुआ है

 प्रधानमंत्री Narendra Modi ने Make in India का formula दिया तो विदेशी कंपनियां भी अब उसमे इनट्रेस्ट दिखा रही है. इस इनट्रेस्ट मे जल्द ही एक नया और बड़ा नाम जुड़ने वाला है. दरअसल China की बाजारों में लगातार आ रही मंदी और अर्थव्यवस्था में गिरावट के माहौल को देखते हुए हाई एंड स्मार्ट फोन बनाने वाली कंपनी Apple ने भारत की ओर रुख करने का मन बना लिया है. Apple पहले भारत में अपने स्टोर खोलेगी और बाद में यहीं पर एप्पल की नई जेनरेशन के स्मार्ट फोन बनाना शुरु करेगी. Apple के सीएफओ लूका मिस्त्री की माने तो India में Apple फोन की विक्री में 76 प्रतिशत का इज़ाफा हुआ है.

अगर Apple के फोन भारत में बनने शुरु हो जायें तो उनकी बिक्री और भी बढ़ सकती है. इसके साथ ही India का एक विशेष वर्ग चीन में बने समान पर शंका करने लगा है. Apple का मानना है कि China के बजाय India में Apple की ग्रोथ संभावनाएं ज्यादा दिख रही है. गौरतलब है कि India दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्मार्टफोन बाजार है. देश में जहां कोरियाई कंपनी सैमसंग, चीनी कंपनी श्याओमी समेत कई बड़ी कंपनियां अपने मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगा चुकी है.

Pakistan के सलाना Budget से ज्यादा Apple का मुनाफा !

Apple के सालाना रिजल्ट ने सारी दुनिया को चौंका दिया है. क्यूपर्टिनो स्थित इस कंपनी ने दिसंबर में समाप्त तिमाही में 74.6 अरब डॉलर का कारोबार किया और उसे कुल 18 अरब डॉलर का शुद्ध मुनाफा हुआ जो एक विश्व रिकॉर्ड है. कंपनी के कुल राजस्व में पिछली तिमाही की तुलना में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई. Apple का एक तिमाही का कारोबार दुनिया के कई देशों से ज्यादा है. मसलन पाकिस्तान का सालाना बजट 39.3 अरब डॉलर है. इस तरह से अफ्रीका और एशिया के कई देशों का कुल बजट उसके शुद्ध मुनाफे जितना भी नहीं होता है.

इस रिजल्ट के बाद कंपनी के शेयरों की कीमत पांच प्रतिशत तक बढ़ गई और वो 114.90 डॉलर प्रति शेयर पर जा पहुंचा है. कंपनी ने चीन में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन वो वहां अमेरिका से ज्यादा बिक्री नहीं कर पाई. Apple  ने साढ़े सात करोड़ आईफोन बेचे हैं. इसके अलावा उसने दो करोड़ 14 लाख आई पैड भी बेचे हैं. सिर्फ आईफोन की बिक्री से कंपनी ने 50 अरब डॉलर कमाए हैं. कंपनी ने इस दौरान दुनिया भर में हर घंटे औसतन 34,000 आईफोन बेचे हैं. ये एक रिकॉर्ड है. कंपनी अप्रैले से अपने एप्पल वॉच की बिक्री भी शुरू करेगी.