ईपीएफ पर नहीं लगेगा टैक्स! अपना फैसला बदलेगी केंद्र सरकार

ईपीएफ पर नहीं लगेगा टैक्स! अपना फैसला बदलेगी केंद्र सरकार

नई दिल्ली। सोमवार को पेश किए गए आम बजट को देश ने काफी पसंद किया। इस बजट को गरीबों और किसानों का बजट बताया जा रहा है। वहीं इस बजट जिस बात की सबसे ज्यादा आलोचना की गई, उस फैसले को मोदी सरकार वापस ले सकती है। बजट में ईपीएफ को टैक्स के दायरे में लाने के फैसले पर सरकार की खूब आलोचना हो रही है।

ईपीएफ पर नहीं लगेगा टैक्स

सोमवार को पेश किए गए बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने घोषणा की थी कि कोई भी व्यक्ति यदि अपने पीएफ से 40 फीसदी धनराशि निकालता है तो उसे टैक्स नहीं देना पड़ेगा, यानी बाकी 60 फीसदी रकम पर टैक्स लगेगा। अपने इस फैसले पर केंद्र सरकार अब डैमेज कंट्रोल मोड में दिख रही है। सरकार ने संकेत दिए हैं कि पीएफ पर किसी तरह का टैक्स नहीं लगाया जाएगा।

मौजूदा नियम के मुताबिक, ईपीएफ पूरी तरह टैक्स फ्री है, लेकिन नए बजट में इसे टैक्स के दायरे में लाने के सरकार के फैसले ने विरोध को हवा दे दी। अलग-अलग क्षेत्रों के कर्मचारियों ने इस फैसले को एंटी-वर्कर बताया। विरोध के बाद सरकार ने पहले साफ किया कि हर महीने 15000 तक की सैलरी वालों को ईपीएफ निकासी में टैक्स से छूट दी गई थी हालांकि अब सरकार सभी के लिए ईपीएफ को टैक्स फ्री बनाने के संकेत दे रही है।

केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा था कि 60 फीसदी राशि पर मिलने वाले ब्याज की निकासी एक अप्रैल से लगने वाले टैक्स के नियम में बदलाव करेगी।

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...
शेयर करें