राहुल गांधी पर राम जेठमलानी का आरोप – मेरे लेख से चुराया फेयर एंड लवली वाला जुमला

राहुल गांधी पर राम जेठमलानी का आरोप – मेरे लेख से चुराया फेयर एंड लवली वाला जुमला

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को लोकसभा में भाषण देते हुए मोदी सरकार और उनकी योजनाओं पर जमकर निशाना साधा था। राहुल ने मोदी सरकार की काले धन को सफेद करने की योजना का मजाक उड़ाते हुए इसे ‘फेयर एंड लवली’ स्कीम बताया था। राहुल के ‘फेयर एंड लवली’ वार पर पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने  मेरे लेख से शब्द चुराए हैं।

जेठमलानी ने ब्लॉग लिखकर कहा कि कालेधन पर मैंने साल 2011 में संडे गार्डियन अखबार के लिए लेख लिखा था। राहुल कांग्रेस नेताओं के भ्रष्टाचार पर लिखे गए लेख के शब्द चुराकर सदन में इस्तेमाल कर रहे हैं। यह लेख विशेषकर पी. चिदंबरम के खिलाफ था और अब राहुल इनका इस्तेमाल चिदंबरम के प्रतिद्वंदी के खिलाफ कर रहे हैँ। मैं राहुल को बधाई देता हूं कि उन्होंने मेरा लेख पढ़ा। मेरे शब्दों को आप कहीं भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन सोर्स का जिक्र भी करना चाहिए, ताकि साहित्यिक चोरी के आरोप से बचा जा सके।

राहुल ने बुधावर को सदन में कहा था कि मैं अरुण जेटली का भाषण सुन रहा था और हम यहां बैठे थे। उन्होंने एक नई योजना अनाउंस की फेयर एंड लवली योजना। इस योजना में हिन्दुस्तान का कोई भी चोर अपने काले धन को सफ़ेद कर सकता है। कहीं से भी उसने चोरी की हो। कहीं से भी उसने भ्रष्टाचार से पैसा बनाया हो। जितना भी उसका ब्लैक मनी हो। अरुण जेटली ने यहाँ खुले हाउस में कहा कि मोदी जी की फेयर एंड लवली योजना आई है, काले पैसे को आप गोरा कर सकते हो। 2014 में मोदी जी ने भाषण दिया था मैं काले धन को खत्म कर दूंगा, मैं काले धन की लड़ाई जीतूंगा, जिसने भी काला धन कमाया है मैं उसको जेल के अन्दर डालूँगा। फेयर एंड लवली योजना में किसी को जेल नहीं मिलेगी, कोई अरेस्ट नहीं होगा, किसी से नहीं पूछा जायेगा। अरुण जेटली जी के पास जाइये टैक्स दीजिये और अपने पैसे को सफ़ेद कर लीजिये।

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...
शेयर करें