इस साल भारत बन जाएगा, सौर ऊर्जा का चौथा सबसे बड़ा बाजार

0
1367
सौर ऊर्जा

सौर ऊर्जा : ब्रिटेन, फ्रान्स और जर्मनी को पछाड़ते हुए भारत वर्ष 2016 में दुनिया में चौथा सबसे बड़ा बाजार बन जाएगा। ब्रिज टू इन्डिया (BTI) नामक एक रिन्युबल इनर्जी कन्सलटिंग फर्म ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि इस साल भारत करीब 5.4 गिगावाट (GW) सौरऊर्जा उत्पादन की क्षमता हासिल कर लेगा।

solar1
सौर ऊर्जा

livemint

इन्डिया सोलर हैन्डबुक नामक इस रिपोर्ट में कहा गया है कि यह क्षेत्र तेजी से विकास कर रहा है और यही वजह है कि सोलर इन्सटॉलेशन की लागत में लगातार कमी आ रही है।

पूरी दुनिया में इस साल 65 GW सौरऊर्जा उत्पादन का अनुमान लगाया जा रहा है, जिसमें एशियाई देश आगे होंगे। जहां तक भारत की बात है तो यह देश 5.4 गिगावाट (GW) सौरऊर्जा उत्पादन की क्षमता हासिल कर लेगा, जबकि छत पर 740 मेगावाट सौर ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है।

solar2
सौर ऊर्जा

nytimes

इस रिपोर्ट में कहा गया हैः

“भारत में सौरऊर्जा का तेजी से विकास हो रहा है। करीब 25 GW की परियोजनाएं अपने अलग-अलग चरण में हैं। यह बाजार, तेजी से फैल रहा है।”

इन्डिया सोलर हैन्डबुक के मुताबिक भारत में पिछले दो साल में सौरऊर्जा के उत्पादन की लागत दर में करीब 33 फीसदी की कमी आई है।

solar3
सौर ऊर्जा

indianexpress

इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि सौरऊर्जा के उत्पादन के मामले में देश के दक्षिणी राज्य आगे चल रहे हैं। जबकि महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश सरीखे अधिक बिजली की खपत करने वाले राज्यों में स्थिति उदासीन है।

गौरतलब है कि पिछले साल जून महीने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत में वर्ष 2022 तक सौरऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य 20 हजार मेगावाट से बढ़ाकर एक लाख मेगावाट कर दिया।

इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...