गाँधी के परपोते का मोदी पर बड़ा हमला, 10 लाख का सूट पहनने वाले फोटो में चला रहे चरखा !

0
31

 गाँधी के परपोते का मोदी पर बड़ा हमला, 10 लाख का सूट पहनने वाले फोटो में चला रहे चरखा : खादी ग्रामोद्योग आयोग के डायरी-कैलेंडर पर प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर लगाने को लेकर विवाद बना हुआ है। सोशल मीडिया में यह मुद्दा गर्माया हुआ है और लोगों की लगातार प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। महात्मा गांधी के परपोते तुषार गांधी ने ट्वीट करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है।

तुषार गांधी ने ट्वीट किया, “प्रधानमंत्री पॉलीवस्त्रों के प्रतीक हैं जबकि बापू ने अपने बकिंघम पैलेस के दौरे के दौरान खादी पहनी थी न कि 10 लाख रुपये का सूट.”

 गाँधी के परपोते का मोदी पर बड़ा हमला, 10 लाख का सूट पहनने वाले फोटो में चला रहे चरखा
गाँधी के परपोते का मोदी पर बड़ा हमला, 10 लाख का सूट पहनने वाले फोटो में चला रहे चरखा

तुषार गांधी ने खादी ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) को बंद करने की मांग करते हुए कहा, “हाथ में चरखा, दिल में नाथूराम। टीवी पर ईंट का जवाब पत्थर से देने में कोई बुराई नहीं है.”


तुषार गांधी ने ट्वीट में बापू की 1931 की ब्रिटेन की यात्रा का हवाला देते हुए कहा कि जब उन्होंने ब्रिटेन के सम्राट जॉर्ज पंचम और महारानी मैरी से मुलाकात की थी तब उन्होंने खादी की धोती और शॉल पहन रखा था। नरेंद्र मोदी ने भारत में राष्ट्रपति बराक ओबामा की यात्रा के दौरान विवादास्पद 10 लाख रुपये का सूट पहना था।

पहले ट्वीट कर तुषार ने कहा था, ‘तेरी तकली ठगों ने ठगली, तेरी बकरी ले गया चोर। सून ले बापू ये पैग़ाम मेरी चिट्ठी तेरे नाम, चिट्ठी में सबसे पहले लिखता तुझको राम राम…..’ पहले, 200 रुपये के नोट पर बापू की तस्वीर गायब हो गई, अब वह केवीआईसी की डायरी और कैलेंडर से नदारद हैं। उनकी जगह 10 लाख रुपये का सूट पहनने वाले प्यारे प्रधानमंत्री की तस्वीर लगी है।”

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरूपम ने भी केवीआईसी के कैलेंडर का विरोध करते हुए कहा कि यह राष्ट्रपिता का अपमान है। निरूपम ने एक बयान में कहा, “हम इसकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि इन कैलेंडरों को तुरंत वापस लिया जाए।”

इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...