सब योगी-योगी चिल्लाते रहे,वहां उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कर दिया मोदी से भी बड़ा काम…

सरकारें बदलने के बाद अक्सर भ्रष्टाचार और घोटालों के खुलासों का सिलसिला तेज हो जाता है और पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के बाद एक बार फिर से ये सिलसिला शुरू होता दिख रहा है। उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार ने राज्य में 240 करोड़ रुपए के जमीन अधिग्रहण घोटाले का खुलासा किया है।यह भी पढ़ें : रोहित सरदाना ने गुस्से में करी अल्लाह पर टिपण्णी,तो गुस्साए मुसलमानों ने कर दिया…

 

नेशनल हाईवे-74 के लिए कांग्रेस सरकार के समय यह जमीन अधिग्रहण हुआ था। नई सरकार ने घोटाले में संदिग्ध भूमिका पाए जाने पर SDM स्तर के 6 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही मामले की जांच सीबीआई से कराने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा गया है। यह भी पढ़ें पूरी हो चुकी हैं तैयारियां,बहुत जल्द 3 हिस्सों में बटने वाला है पाकिस्तान…सभी देश…

 

इस घोटाले के बारे में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को कई जानकारियां दीं। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री ने रावत ने कहा कि मैदानी जिले उधम सिंह नगर में 2011-2016 के बीच प्रस्तावित एनएच-74 के लिए खेती की जमीन के अधिग्रहण में 240 करोड़ रुपए की अनियमितता सामने आई है। इस जमीन अधिग्रहण में कुछ खास लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए खेती की जमीन को गैर कृषि भूमि दिखाया गया और मुआवजे की रकम पर 20 गुना ज्यादा फायदा कमाया गया। मुख्यमंत्री ने ये भी बताया कि सवालों के घेरे में आई ज्यादातर जमीन उधम सिंह नगर जिले के जसपुर, काशीपुर, बाजपुर और सितारगंज में है। यह भी पढ़ें : संसद के अन्दर ही बूरी तरह मारा गया ओवैसी,थप्पड़ का विडियो वायरल-यहाँ देखिये पूरा…

Image result for uttrakhand new cm

अगले पेज पर देखें कांग्रेस के किन दिग्गजों की होने वाली है गिरफ़्तारी…

Loading...
इन ← → पर क्लिक करें

Loading...
loading...
शेयर करें